Frequently Asked Questions

FAQ Document on Delhi Model Virtual School (DMVS) Session 2022-23

Ans. No, DMVS is a full-time school and a child cannot be enrolled in two schools at the same time.

Ans. For admission to class 9, students must be between 13 to 18 years at the time of enrollment. The student should have passed Class 8 from a recognized school. They must have the mark sheet and school leaving certificate/transfer certificate for the same at the time of verification.

Ans. Yes. The admissions process will be open to all students across India who meet the required eligibility criteria.

Ans. DMVS Teachers shall engage in teaching and assessing the students, producing content for asynchronous learning, attending training.

Ans. DMVS Teachers will have to be available in the school as per their work timings and will be permanently deputed in diverted capacity to DMVS. Visiting teachers will be requested to visit studios as per requirement for a specific time and have to fulfill their responsibilities in their parent school as well. They shall remain posted at their parent school.

Ans. The remuneration of the teachers will be as per DoE norms. Remuneration for Visiting teachers will be as per SCERT standards.

Ans. For the Pilot year, TGT and PGT staff at DMVS will teach students of Class 9. There is no fixed number of DMVS Teachers and Visiting Teachers, and they shall be recruited as per the number of students admitted.

Ans. A comprehensive system for all the process of permissions, schedule and work-management will be taken care of as per the needs of the Visiting Teachers.

Ans. Delhi Model Virtual School (DMVS) is affiliated to the Delhi Board of School Education (DBSE).

Ans. DBSE marksheet/certificate is equivalent to other boards.

Ans. DMVS is Delhi Government’s first completely virtual school, carrying hallmarks of any regular government school in the city and providing holistic education to its students. Unlike an open school, in DMVS, there is a greater focus on student participation, continuous learning and evaluation. There is also focus on social and emotional support, provision for socialisation and a strong sense of school community.
Delhi Model Virtual School (DMVS) सत्र 2022-23 पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

उत्तर- नहीं, डीएमवीएस एक फुल टाइम स्कूल है और एक बच्चे को दो स्कूलों में एनरोल नहीं किया जा सकता है।

उत्तर- DMVS कक्षा 9 में दाखिले के लिए आवेदन के समय छात्र की उम्र 13 से 18 वर्ष के बीच होनी चाहिए। छात्र किसी भी मान्यता प्राप्त स्कूल से कक्षा 8 पास होना चाहिए और डॉक्यूमेंट वेरिफिवेशन के समय उसकी मार्कशीट एंड स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट/ ट्रांसफर सर्टिफिकेट होना चाहिए।

उत्तर- हां। प्रवेश प्रक्रिया भारत भर के सभी छात्रों के लिए खुली होगी जो आवश्यक एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया के अनुसार एलिजिबल हैं।

उत्तर- DMVS शिक्षकों की भूमिका छात्रों को पढ़ाने और उनका आकलन करने, एसिंक्रोनॉस लर्निंग के लिए मटेरियल तैयार करना, ट्रेनिंग्स में भाग लेने की होगी।

उत्तर- DMVS शिक्षकों को अपने कार्य समय के अनुसार स्कूल में उपलब्ध होना होगा और DMVSमें स्थायी रूप से प्रतिनियुक्त किया जाएगा। गेस्ट टीचर्स से अनुरोध किया जाएगा कि वे एक विशिष्ट समय के लिए आवश्यकता के अनुसार स्टूडियो मे आकर क्लास डिलीवर करें और अपने पैरेंट स्कूल में भी अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करें। वे अपने विद्यालय में नियुक्त रहेंगे।

उत्तर- शिक्षकों का वेतन डीओई(DoE) के मानदंडों के अनुसार होगा। अतिथि शिक्षकों का पारिश्रमिक एससीईआरटी(SCERT) मानकों के अनुसार होगा।

उत्तर- प्रायोगिक वर्ष के लिए, DMVS में टीजीटी और पीजीटी कर्मचारी कक्षा 9 के छात्रों को पढ़ाएंगे। DMVS शिक्षकों और अतिथि शिक्षकों की कोई निश्चित संख्या नहीं है, और उन्हें भर्ती किए गए छात्रों की संख्या के अनुसार भर्ती किया जाएगा।

उत्तर- अतिथि शिक्षकों की आवश्यकता के अनुसार अनुमति, अनुसूची और कार्य-प्रबंधन की सभी प्रक्रियाओं के लिए एक व्यापक प्रणाली का ध्यान रखा जाएगा।

उत्तर- Delhi Model Virtual School(DMVS) दिल्ली बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन (DBSE) से अफ़िलिएटेड है।

उत्तर- DBSE मार्कशीट/सर्टिफिकेट अन्य बोर्ड के समकक्ष है।

उत्तर- DMVS दिल्ली सरकार का पहला रेगुलर वर्चुअल स्कूल है, जो शहर के किसी भी नियमित सरकारी स्कूल की पहचान रखता है और अपने छात्रों को समग्र शिक्षा प्रदान करता है। एक ओपन स्कूल के विपरीत, DMVS में, छात्रों की भागीदारी, निरंतर सीखने और मूल्यांकन पर अधिक ध्यान दिया जाता है। सामाजिक और भावनात्मक समर्थन, समाजीकरण के प्रावधान और स्कूल समुदाय की एक मजबूत भावना पर भी ध्यान दिया जाता है।

Follow Us